Computer Kya Hai/ What is Computer/ कंप्यूटर किसे कहते हैं या कंप्यूटर क्या है

हम सभी दैनिक जीवन में कम किसी ना किसी कंप्यूटर का इस्तेमाल तो करते हैं अब आप में से कुछ लोग सोच रहे होंगे कंप्यूटर तो एक ही होता है और मैंने यह लिखा है कि किसी ना किसी कंप्यूटर का इस्तेमाल करते हैं। तो ऐसा नहीं है कंप्यूटर एक प्रकार का नहीं कंप्यूटर सैकड़ों प्रकार के होते हैं जो मैं इस पोस्ट में बताऊंगा।

कंप्यूटर की परिभाषा( definition of computer)

Basic definition of computer

कंप्यूटर एक इलेक्ट्रॉनिक मशीन है। यह विभिन्न प्रकार के हार्डवेयर एंड सॉफ्टवेयर का मिश्रित रूप है जो एक साथ मिलकर कंप्यूटर का निर्माण करते हैं।

Advance the definition of computer

वह सभी उपकरण जो सॉफ्टवेयर के माध्यम से हार्डवेयर को कंट्रोल करने से बनते हैं कंप्यूटर कहलाते हैं। दूसरे शब्दों में-

हार्डवेयर्स के एक समूह को कंट्रोल करने के लिए सॉफ्टवेयर का उपयोग कर जो इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस बनाई जाती है वह कंप्यूटर होता है।

जैसे- mobile phone, smartphone, personal computer, mainframe, supercomputer, mini computer, home theatre, smart TV, smart watch etc

कंप्यूटर के प्रकार( Types of computer)

कंप्यूटर कई प्रकार के होते हैं कुछ उदाहरण नीचे दिए गए हैं-

Super Computer / सुपर कंप्यूटर

कंप्यूटर की दुनिया में यह सबसे ताकतवर कंप्यूटर होता है सुपर कंप्यूटर ज्यादातर प्रयोगशाला या बहुत बड़े बिजनेस को संभालने के लिए बनाए जाते हैं यह बहुत बड़े होते हैं इनको रखने के लिए कम से कम 2000 मीटर* मीटर क्षेत्रफल की एक जगह चाहिए जो की बहुत बड़ी जगह होती है।

सिर्फ जगह एक प्रॉब्लम नहीं है इनका प्राइस भी बहुत ज्यादा होता है तकरीबन दो हजार करोड़ रुपए में एक सुपर कंप्यूटर खरीदा जा सकता है। इससे आप अंदाजा लगा सकते हैं की सुपर कंप्यूटर पर इतना कोई बच्चों का खेल नहीं है।

दुनिया में कुछ ही सुपरकंप्यूटर्स कार्यरत हैं जैसे Titan 1st ,Titan 2nd etc

मेनफ्रेम कंप्यूटर / Mainframe computer

मेनफ्रेम कंप्यूटर भी बहुत ज्यादा ताकतवर होते हैं यह ज्यादातर बिजनेस या स्पेसशिप( अंतरिक्ष यान) में प्रयोग किए जाते हैं। मेनफ्रेम कंप्यूटर भी साधारण रूप से यूज नहीं होते मतलब इनको आप घर पर यूज नहीं कर सकते यह भी बिजनेस के लिए ही यूज होते हैं।

माइक्रो कंप्यूटर/ micro computer

माइक्रो कंप्यूटर को सामान्य भाषा में पर्सनल कंप्यूटर भी कहा जाता है इस नाम से आप समझ ही गए होंगे कि यह कंप्यूटर घरों में या दुकानों में यूज हो सकते हैं।

क्योंकि इनको घरों में और दुकानों में यूज़ किया जाएगा है यह बहुत सस्ते होते हैं मतलब मेनफ्रेम और सुपर कंप्यूटर की तुलना में।

इन कंप्यूटर में कहीं अलग-अलग चीजें लगी होती हैं जैसे मॉनिटर, CPU, UPS, Keyboard, Mouse, Printer, Scanner, आदि

इन सभी चीजों के बारे में हम नीचे विस्तार से चर्चा करेंगे।

इन कंप्यूटरों को हम साधारणतया 2 रूप में इस्तेमाल करते हैं

डेस्कटॉप कंप्यूटर/ Desktop computer

डेस्कटॉप कंप्यूटर साधारण रूप से घरों में इस्तेमाल किए जाते हैं जैसा किन के नाम से होता है यह कंप्यूटर एक डेस्क पर रखे रहते हैं।

मतलब यह कंप्यूटर्स पोर्टेबल नहीं होते। इन कंप्यूटर्स में माउस, कीबोर्ड, मॉनिटर, सीपीयू आदि अलग-अलग लगे होते हैं जिनको केबल्स के द्वारा जोड़ा जाता है हालांकि आजकल यह सब वायरलेस भी आ गए हैं लेकिन ज्यादातर ये अलग अलग ही होते हैं और इनको कहीं भी ले जाना मुमकिन नहीं है यह सब एक जगह पर रखकर इस्तेमाल किए जा सकते हैं।

लैपटॉप कंप्यूटर/ Laptop Computer

लैपटॉप कंप्यूटर साधन रूप से पोर्टेबल कंप्यूटर(Portable computer) होते हैं जिनको हम यात्रा के दौरान भी अपने साथ रख सकते हैं हालांकि इनकी कार्यविधि डेक्सटॉप कंप्यूटर के समान ही होती है।

लेकिन इनमें खास अंतर होता है इनमें मॉनिटर, कीबोर्ड ,माउस ,सीपीयू ,यूपीएस एक साथ जुड़े होते हैं। क्योंकि इनका अपना पावर सोर्स इनके साथ होता है तो लैपटॉप को हम कहीं भी इस्तेमाल कर सकते हैं दूसरे शब्दों में हम कह सकते हैं यह एक मोबाइल डिवाइस है।

मिनी कंप्यूटर/ Mini Computer

साधारण जिंदगी में मिनी कंप्यूटर का इस्तेमाल भी हम घरों में व अन्य उपकरणों में करते हैं जैसे टेलीफोन में, टेलीविजन में, होम थिएटर में, घड़ियों में, और गाड़ियों में इत्यादि।

मिनी कंप्यूटर का हार्डवेयर बहुत हल्का होता है मतलब यह उतना लोड नहीं उठा पाता जितना कि एक लैपटॉप, डेक्सटॉप उठा लेते हैं

  • हमारा स्मार्टफोन एक मिनी कंप्यूटर है।
  • मिनी कंप्यूटर का इस्तेमाल हम ब्लूटूथ डिवाइस इसमें करते हैं- जैसे ईयर फोन
  • स्मार्ट टीवी में आजकल मिनी कंप्यूटर का ही इस्तेमाल होता है।
  • क्योंकि होम थिएटर में ब्लूटूथ सिस्टम लगा होता है और अन्य फीचर्स भी आते हैं तो यह भी एक मिनी कंप्यूटर बोर्ड के साथ कनेक्ट होता है।
  • गाड़ियों में हमारा जीपीएस सिस्टम एक मिनी कंप्यूटर है क्योंकि इसको चलाने के लिए सॉफ्टवेयर हार्डवेयर दोनों की जरूरत पड़ती है।
  • स्मार्ट वॉच आजकल काफी प्रचलन में है एक कंप्यूटर है

Types of Computer on the basis of function

फंक्शंस के आधार पर कंप्यूटर तीन प्रकार के होते हैं

  1. Digital computer
  2. Analogue computer
  3. Hybrid computer

डिजिटल कंप्यूटर /Digital computer

आजकल हम जिन कंप्यूटर्स को देखते हैं चाहे वो डेक्सटॉप हो या लैपटॉप, टेबलेट, स्मार्टफोन इत्यादि सभी डिजिटल कंप्यूटर होते हैं ।

दूसरे शब्दों में-

जो कंप्यूटर हमको डाटा डिजिटल फॉर्म में देते हैं वह कंप्यूटर डिजिटल कंप्यूटर कहलाते हैं।

एनालॉग कंप्यूटर / Analogue computer

एनालॉग कंप्यूटर बुक कंप्यूटर होते हैं जो हमको डांटा एनालॉग फॉर्म में देते हैं जैसे वोल्टेज मीटर, स्पीड मीटर, या दिशा सूचक यंत्र आदि

एनालॉग कंप्यूटर साधारणतया पुरानी गाड़ियों, पानी के जहाज, पुराने इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस में प्रयोग होते हैं।

आजकल एनालॉग कंप्यूटर का चलन बहुत कम हो गया है और इनकी जगह भी डिजिटल कंप्यूटर ने ले ली है।

हाइब्रिड कंप्यूटर/ Hybrid computer

जैसा कि इसके नाम से पता चलता है हाइब्रिड कंप्यूटर, डिजिटल कंप्यूटर और एनालॉग कंप्यूटर का मिलाजुला रूप है।

दूसरे शब्दों में-

जो कंप्यूटर एनालॉग कंप्यूटर से डाटा लेकर हमें डिजिटल रूप में दिखाते हैं हाइब्रिड कंप्यूटर कहलाते हैं ।

Parts of computer

  1. Hardware
  2. Software

Hardware of Computer

कंप्यूटर में कई प्रकार के हार्डवेयर का इस्तेमाल किया जाता है जैसे-

  1. monitor
  2. CPU
  3. UPS
  4. keyboard
  5. mouse
  6. gamepad
  7. joystick
  8. printer
  9. scanner
  10. graphic tablet
  11. Memory

Software

कंप्यूटर में दो प्रकार के सॉफ्टवेयर इस्तेमाल किए जाते हैं जो इस प्रकार हैं-

  1. सिस्टम सॉफ्टवेयर/ ऑपरेटिंग सिस्टम
  2. एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर

सिस्टम सॉफ्टवेयर

सिस्टम सॉफ्टवेयर है वह सॉफ्टवेयर होता है जिस पर सारे एप्लीकेशन सॉफ्रटवेयर रन करते हैं।

उदाहरण के तौर पर windows 10, windows 8, Android, Mac OS, Ubuntu, Chrome OS etc

एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर

जिन सॉफ्टवेयर पर हम काम करते हैं वह सभी एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर होते हैं चाहे वह गेम्स हो या कोई और एप्लीकेशन।

eg, Adobe reader, Adobe illustrator, Adobe Photoshop, Microsoft office, Google Chrome, internet explorer, etc

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *